ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
यातायात प्रभारी ने मोरवा बस स्टैण्ड में बैठक कर दी आवश्यक जानकारियां
December 30, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • उर्जाधानी


वैढ़न,सिंगरौली। सड़क दुर्घटनाओं पर रोक लगाने हेतु तथा यातायात व्यवस्था सुगम बनाने हेतु यातायात विभाग लगातार प्रयासरत है। यातायात प्रभारी  सूबेदार अजयप्रताप सिंह आज मोरवा सिंगरौली स्थित बस स्टैंड पर पहुंचे जहां पहुँचकर सभी बस संचालकों, चालक, परिचालकगण को एकत्र कर मीटिंग ली, जिसमें उन्होनें सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम व सड़क सुरक्षा के लिए बताया कि बस के अन्दर ओवरलोडिंग सवारी नही बैठाएं, बस के ऊपर किसी को न बैठने दें और बस के ऊपर निर्धारित मानक से अधिक माल बगैरह लोड नहीं करें। बस चलाते समय चालक और परिचालकगण निर्धारित वर्दी मय नेमप्लेट और बैच नम्बर के साथ धारण करें। बस स्टॉप पर ही बस रोकें, सवारियाँ उतारें व चढ़ाएं, मार्ग मे यत्र-तत्र कहीं भी बस खड़ी न करें। बस में इमरजेंसी गेट और खिड़की अवश्य लगवाएं। खिड़कियों के बाहर जाली और रेलिंग लगवाएं। बस को चलाते समय बस के दोनों दरवाजे बन्द होने चाहिए, दरवाजों की कड़ी बगेरह भी ठीक से लगी हों। बस के ऊपर कोई साइकिल या अन्य धातु से बनी हुई वस्तु आदि अधिक ऊँचाई की नहीं रखें जिससे कि सवारी की जान/माल को नुकसान न हो।बस में फ़र्स्ट एड बॉक्स हमेशा रखें और दवाईयां बगैरह की एक्सपायरी डेट भी समय-समय पर चेक कराते रहें।अग्निशमन यंत्र चालू हालत में बस के अन्दर आगे और पीछे दोनो ओर लगे हो।
उन्होने बस चालकों को निर्देश दिये कि  बस ड्राईवर का लाईसेंस व वाहन से सम्बंधित अन्य सभी दस्तावेज साथ रखें।शराब पीकर या नशे की हालत में बस कभी न चलायें।गतिसीमा में ही बस चलाये, तेज वाहन चलाना खतरनाक हो सकता है। बस चलाते समय मोबाइल फ़ोन न चलायें। बस में प्रेशर होर्न का उपयोग न करें।रात के समय बसों को सड़क किनारे पार्किंग नहीं करें।
सर्दी का समय है कोहरे में वाहन चलाते समय वाहनो के पासिंग लाईटस, रेडियम, रिफ्लेक्टर बस में लगायें और बस की गति को धीमा रखें।।ओवर टेकिंग के समय सावधानी बरतें, मोड़ पर ओवर टेक न करें।यातायात नियमों का पालन जरूर करें, यातायात नियम आपकी और बस में सवार लोगों की सुरक्षा व हिफाज़त के लिए हैं। सभी लोगों को ट्रेफ़िक नियमों से सम्बंधित पम्पलेट्स बाँटे गए, नियमों पर अमल करने की शपथ दिलाई।