ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
वन कर्मियों ने किसान को लाठी-डंडों से पीटा; उस पर लकड़ी चोरी का झूठा आरोप स्वीकार करने का दबाव बना रहे थे
December 29, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश

पन्ना. जिले के अजयगढ़ थाना क्षेत्र के हनुमतपुर चौकी में वन कर्मियों के द्वारा एक किसान को लाठी-डंडों से बेरहमी से पिटाई का मामला सामने आया है। किसान की शिकायत पर हनुमतपुर पुलिस ने वन कर्मियों के ऊपर मामला दर्ज कर पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है। घायल किसान को इलाज के लिए समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अजयगढ़ में भर्ती कराया गया है। 

मामला शनिवार को पन्ना टाइगर रिजर्व के गंगऊ अभयारण्य की गुमानगंज वन चौकी का है। मोहाली गांव के पीड़ित किसान देवी दीन केवट ने बताया कि मैं अपने खेत में डीजल पंप सुधार रहा था, तभी वहां पर बीट गार्ड और चौकीदार मोटर साइकिल से आए। मुझे डिप्टी रेंजर ने जरूरी काम से बुलाया है ये कहकर अपने साथ जबरदस्ती गुमानगंज वन चौकी ले गए। वहां पर मुझ पर लकड़ी चोरी का झूठा आरोप स्वीकार करने के लिए दबाव बनाने लगे। मैंने ये नहीं स्वीकार किया तो मुझे लाठी-डंडों से पीटने लगे। इसके बाद मुझे जंगल में ले जाकर छोड़ दिया। मेरे शहरी में कई जगह चोट के निशान हैं, किसी तरह से अपने गांव पहुंचा और गांव वालों की मदद से मैंने हनुमतपुर पुलिस चौकी में वन कर्मियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई हैं।


पूरे मामले में एएसपी बीकेएस परिहार का कहना है कि फरियादी देवीदीन केवट के द्वारा एक शिकायत की गई है, जिसमें बताया गया है कि वन कर्मियों ने उसके साथ मारपीट की है। शिकायत के बाद हमने हनुमतपुर पुलिस चौकी में मामला दर्ज का दिया है। फरियादी किसान को मेडिकल के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अजयगढ़ में भर्ती करवाया है। मेडिकल रिपोर्ट के बाद ही आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।