ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
उत्तर भारत में बारिश के साथ ओले की संभावना, कोहरे के कारण 26 ट्रेनें लेट 
January 6, 2020 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY


नई दिल्ली। उत्तर भारत के अधिकतर हिस्सों में शीतलहर का असर जारी है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में अगले दो दिन आम जनता को भारी कोहरे के कारण कम दृश्यता रहने की चेतावनी दी है। साथ ही हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर में अगले कुछ दिन तक ऊंचे क्षेत्रों में बर्फबारी की भी संभावना जताई, जिससे हवा की ठंडक में ओर ज्यादा बढ़ोतरी होगी। हिमाचल में अगले दो दिन के लिए भारी बारिश और बर्फबारी की नारंगी व पीली चेतावनी जारी की गई है। आईएमडी ने कहा, उत्तर प्रदेश और उत्तरी मध्य प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर जहां बेहद घने कोहरे के चलते आम जनता को परेशानी होगी, वहीं असम, मेघालय, नागालैंड, पूर्वी राजस्थान, मिजोरम, त्रिपुरा, पश्चिमी बंगाल, ओडिशा और बिहार में हल्के कोहरे के चलते कम दृश्यता रहेगी। रविवार को भी राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हवा की गुणवत्ता 336 एक्यूआई के साथ ‘बहुत खराब’ श्रेणी में ही बनी रही। हालांकि दिल्ली में धूप निकलने के चलते अधिकतम तापमान सीजन के औसत से 2 अंक ऊपर 21.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि न्यूनतम तापमान भी 7 डिग्री के सामान्य स्तर पर बना हुआ है। हिमाचल के शिमला, मनाली, कुफरी, डलहौजी, केयलोंग और कलपा आदि इलाकों में तापमान शून्य से नीचे पहुंच गया है। जम्मू-कश्मीर में धूप निकलने के चलते रात के तापमान में थोड़ी बढ़ोतरी हुई है। श्रीनगर में शनिवार रात का तापमान माइनस 1 डिग्री दर्ज किया गया। हालांकि घाटी के अधिकतर इलाकों में अब भी न्यूनतम तापमान माइनस 5 से माइनस 15 डिग्री के बीच चल रहा है। लद्दाख की राजधानी लेह में भी माइनस 16.4 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। पंजाब और हरियाणा में भी भयानक शीतलहर का असर जारी है। हरियाणा में करनाल सबसे ठंडा रहा, जहां न्यूनतम तापमान सामान्य से 5 अंक नीचे 1.8 डिग्री रहा। पंजाब में बठिंडा और आदमपुर 3.3-3.3 डिग्री के साथ सबसे ठंडे रहे। दोनों राज्यों के अन्य स्थानों पर भी तापमान 4 से 7 डिग्री के बीच ही है। चंडीगढ़ में 5.6 डिग्री तापमान दर्ज किया है।
- कोहरे के कारण 26 ट्रेनें लेट
उत्तर रेलवे क्षेत्र में दिल्ली आ रहीं कम से कम 26 ट्रेन विभिन्न स्थानों पर घने कोहरे के कारण कम दृश्यता होने से 2 से 5 घंटे देरी के साथ पहुंचीं।  हैदराबाद-निजामुद्दीन दक्षिण एक्सप्रेस और मुंबई-अमृतसर दादर एक्सप्रेस तय समय से 5 घंटे, पुरी-नई दिल्ली पुरुषोत्तम एक्सप्रेस 4.45 घंटे, कटिहार-अमृतसर एक्सप्रेस 4.15 घंटे, हैदराबाद-नई दिल्ली तेलंगाना एक्सप्रेस और छिंदवाड़ा-दिल्ली सराय रोहिल्ला एक्सप्रेस 4 घंटे की देरी से चल रही थी। शनिवार को भी कोहरे के चलते कम से कम 19 ट्रेन अपने तय समय पर शुरुआती स्टेशन से रवाना नहीं हो सकी थीं। ये ट्रेन भी तय समय से कई घंटे की देरी से अपने गंतव्य पर पहुंचीं थीं।