ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
स्वच्छ भारत मिशन सर्वेक्षण 2020 में नगर निगम को टाप-10 मे लाना है: केवीएस चौधरी
December 27, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • उर्जाधानी


 कलेक्टर ने अधिकारियो कर्मचरियो को दिलाई स्वच्छता की शपथ

वैढ़न,सिंगरौली। स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 में अपने  नगर निगम को टाप 10 नगर निगमो मे लाने हेतु कलेक्टर श्री केवीएस चौधरी की अगुवाई में जिला मुख्यालय में पदस्थ सभी शासकीय कार्यालयो के अधिकारियो कर्मचारियो के द्वारा एक स्वर से शहर को साफ सुथरा बनाने में संक्रिय सहभागिता निभाने का संकल्प लिया गया।
      इसी कड़ी में पुलिस अधीक्षक कार्यालय में कलेक्टर श्री केवीएस चौधरी के अध्यक्षता में एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप सिंडे, निगमायुक्त शिवेन्द सिंह के उपस्थिति में स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के सदर्भ में बैठक आयोजित की गई। बैठक के दौरान कलेक्टर श्री चौधरी ने उपस्थित पुलिस अधिकारियो , जवानो को संबोधित करते हुये कहा कि यह शहर आपका है इसे साफ सुथरा एवं सुन्दर बनाने में सभी को मिलकर अपना संक्रिय योगदान देना होगा। उन्होने ने कहा कि शहर जितना स्वच्छ होगा उतना ही अच्छा स्वच्छता सर्वेक्षण के दौरान अंक प्राप्त होगे। 
      उन्होने बताया कि सर्वे के दौरान  बाहर से आने वाली स्वच्छता सर्वेक्षण टीम के द्वारा किसी से भी सात प्रकार के प्रश्न पूछे जा सकते है। जिसका उत्तर भी बताना आवश्यक होगा। उन्होने बताया कि टीम के द्वारा यह प्रश्न पूछे जा सकते है। कि क्या आप जानते है कि आपका शहर स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 में भागीदारी कर रहा है। आपके हां कहने पर 100 अंक प्राप्त होगे। इसी तरह से यह पूछा जायेगा की आप शहर में अपने आस पास की स्वच्छता को अपने पिछले छ: महिने के अनुभव के आधार पर 200 मे से कितना अंक देने चाहेगे आपकी संतुष्टि के आधार पर अधिकतम अंक प्राप्त होगा। तथा शहर में सर्वजनिक एवं व्यावसायिक क्षेत्र की स्वच्छता को अपने पिछले 6 महिने के अनुभव के आधार पर कितना अंक देने चाहेगे इसका उत्तर संतुष्टि के अधार पर देने से 200 अंक पाप्त होगे।
      कलेक्टर ने बताया कि आपसे यह भी पूछा जा सकता है कि सूखा एवं गीला कचरा देते है आपके हां कहने पर नगर निगम को दो सौ अंक मिलेगा। एवं आप से जब यह पूछा जाये की आपके शहर की सड़को के डिवाईडर पौधे या हरी घास से ढके है यदि आप हां कहेगे तो सौ अंक प्राप्त होगा। वही यह पूछने पर कि आप शहर में सर्वजनिक शौचालयो की स्वच्छता को अपने पिछले 6 महिने के अनुभव के आधार पर दो सौ में से कितना अंक देना चाहेगे अगर आप संतुष्ट होगे दो सौ अंक मिलेगे एवं शहर के ओडीएफ अथवा खुले में शौच से मुक्त या जीएफसी अर्थात कचरा मुक्त के स्टेटस के संबंध में जानकारी है तो पूरे सौ अंक मिलेगे।
      कलेक्टर ने कहा कि इन प्रश्नो का उत्तर हम सब को अपने परिवार, आस पाड़ोस के लोगो को बताना होगा ताकि उन्हे स्वच्छता सर्वेक्षण के संबंध में जानकारी हो सके। कलेक्टर ने कहा कि हम सब अपने कार्यालयो, कार्यालय परिसर, शौचालयो की साफ सफाई भी दुरस्त रखे वही आपको शहर में जहा भी गंदगी दिखाई दे स्वच्छता एप डाउनलोड कर तत्काल एप के माध्यम से शिकायत दर्ज कराये। ताकि निगम अमले द्वारा तत्काल उस जगह की सफाई कराई जा सके। इसके पश्चात कलेक्टर श्री चौधरी के द्वारा उपस्थित पुलिस विभाग के अधिकारियो एवं जवानो की स्वच्छता की शपथ दिलाई गई। बैठक के दौरान थाना प्रभारी बैढ़न अरूण पाण्डेंय, थाना प्रभारी विन्ध्य नगर राघुवेन्द्र द्विवेदी, थाना प्रभारी नवानगर यूपी सिंह,आरआई अशीष तिवारी, स्वच्छता प्रकोष्ठ के समन्वयक अमित सिंह, सहित पुलिस विभाग के अधिकारी, जवान आदि उपस्थित रहे।