ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
सरस्वती विद्वत परिषद् की कार्यकारिणी का हुआ विस्तार
December 8, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • उर्जाधानी


बैठक में स्वर्ण जयंती कार्यक्रम की हुई सराहना
काल चिंतन संवाददाता,
मोरवा,सिंगरौली। रविवार को अपरान्ह 3 बजे से सरस्वती विद्वत परिषद् सिंगरौली की एक आवश्यक बैठक सरस्वती उ.मा.वि. सिंगरौली में परिषद् के अध्यक्ष प्रो. विंध्यवासिनी प्रसाद पाण्डेय, पूर्व प्राचार्य कला एवं विधि महाविद्यालय सिंगरौली की अध्यक्षता में संपन्न हुई।
विद्वत परिषद् ने सरस्वती शिशु मंदिर- उ.मा.वि. सिंगरौली द्वारा विगत 4 दिसंबर को आयोजित स्वर्ण जयंती वर्ष (4 दिसंबर 2019 से 4 दिसंबर 2020) के उद्घाटन व वार्षिकोत्सव के अवसर भैया बहनों द्वारा आयोजित सांस्कृतिक, शारीरिक एवं विज्ञान प्रदर्शनी कार्यक्रमों की सराहना करते हुए किशोर भारती, कन्या भारती, विद्यालय प्रबंध समिति एवं प्राचार्य, आचार्य-भगिनियों को साधुवाद दिया तथा स्वर्ण जयंती वर्ष के अंतर्गत आयोजित होने वाले सभी क्रियाकलापों व कार्यक्रमों में हर संभव सहयोग प्रदान करने का आश्वासन प्राचार्य श्री त्रिपाठी को दिया।
विद्वत परिषद् के कुशल संचालन के लिये कार्यकारिणी का विस्तार किया गया। बैठक में उपस्थित परिषद् के सदस्यों द्वारा एक उपाध्यक्ष एवं एक सह सचिव के पद का श्रृजन करने का सुझाव दिया गया। उक्त सुझाव के तारतम्य में उपाध्यक्ष पद हेतु मायाराम महाविद्यालय के प्राचार्य सतेन्द्र कुमार दुबे एवं सह सचिव पद के दायित्व हेतु पत्रकार रामयश सिंह के नाम का प्रस्ताव आया जिसे सर्व सम्मति से स्वीकार किया गया। 
इस बैठक में विद्वत परिषद् के अध्यक्ष प्रो. विंध्यवासिनी प्रसाद पाण्डेय एवं सचिव पत्रकार-साहित्यकार रोहित गुप्त के अतिरिक्त सरस्वती उ.मा.वि. सिंगरौली के प्राचार्य फतेह बहादुर त्रिपाठी, प्रधानाचार्य प्रभाकर प्र. मिश्र, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य रामसुमिरन गुप्ता, ननि स्वास्थ्य निरीक्षक राजीव सिंह, कवि-जी.एल. प्रसाद, प्रधानाचार्य आदर्श शिक्षा निकेतन सीताराम साहू, वरिष्ठ नागरिक गुलाब शंकर मिश्र, श्रीप्रकाश केशरी, मायाराम महाविद्यालय की प्राध्यापिका सुश्री जतिंदर कौर, उपाध्यक्ष व्यापार मंडल रविंदर पाल 'लवलीÓ सहित चयनित उपाध्यक्ष एवं प्राचार्य मायाराम महाविद्यालय सतेन्द्र कुमार दुबे, सह सचिव पत्रकार- रामयश सिंह तथा अन्य सदस्यों की उपस्थिति रही। 
अंत में बैठक का संचालन कर रहे सचिव रोहित गुप्त ने उपस्थित सम्मानित सदस्यों के प्रति आभार व्यक्त करते हुए भविष्य में भी हर संभव सहयोग की अपेक्षा की। उन्होंने बताया कि दिसंबर माह में ही विद्वत परिषद् की आम बैठक प्रस्तावित है। तिथि निर्धारित होने पर सभी सम्मानित सदस्यों को सूचना दी जायेगी।