ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
पुलिस महानिरीक्षक रीवा जोन रीवा चंचल शेखर द्वारा जिला सिंगरौली में आयोजित की गई वार्षिक अपराध समीक्षा बैठक काल चिंतन संवाददाता
December 9, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • उर्जाधानी


वैढ़न,सिंगरौली।  दिनांक 09 दिसम्बर 2019 को श्री ​चंचल शेखर, पुलिस महानिरीक्षक रीवा जोन रीवा द्वारा जिला सिंगरौली के अधिकारियों के साथ वार्षिक अपराध समीक्षा का आयोजन पुलिस अधीक्षक कार्यालय सिंगरौली के सभागर में किया गया। उक्त बैठक में श्री अभिजीत रंजन, पुलिस अधीक्षक सिंगरौली, श्री प्रदीप शेन्डे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जिला सिंगरौली के साथ—साथ समस्त राजपत्रित अधिकारी (पुलिस), थाना प्रभारी एवं चौकी प्रभारीगण उपस्थित हुये। बैठक में भादवि के अपराधो का त्रिवर्षीय नक्शा की थानावार समीक्षा, 3 माह से अधिक अवधि के लंबित अपराध, लंबित चिन्हित जघन्य एवं सनसनीखेज अपराध की वर्तमान स्थति, सजायाबी एवं दोषमुक्त सहित की जानकारी ली गई, महिलओं पर घटित अपराध का त्रिवर्षीय तुलनात्मक नक्शा का अध्ययन किया गया, एक माह से अधिक अवधि के लंबित महिला संबंधी अपराधो की समीक्षा, अनुसूचित जाति/जनजाति के सदस्यों पर घटित अपराधो की समीक्षा, 1 माह से अधिक अवधि के लंबित एससी/एसटी एक्ट के प्रकरणवार समीक्षा, लंबित राहत प्रकरण, लघु अधिनियम, प्रतिबंधात्मक कार्यवाही का त्रिवर्षीय तुलनात्मक नक्शा का अध्ययन, संमंस वारंट की तामीली की स्थिति, वर्ष 2019 में थानावार कराई गई एम.एल.सी. एवं उन पर की गई कार्यवाही की समीक्षा, सी.एम. हेल्पलाईन एवं समस्त प्रकार की शिकायतो की समीक्षा, धारा 420 के लंबित प्रत्येक प्रकरण की समीक्षा की जाकर शीघ्र निराकरण कराये जाने हेतु शख्त निर्देश दिये गये है। 
      साथ ही क्राईम सेल प्रभावी ढंग से कार्य करे तथा सम्पत्ति संबंधी अपराध एवं महिलाओं के विरूद्ध अपराध का अपराधवार विवरण एवं अपराधियों के फोटो तथा उनके वारदात करने का तरीका आवश्यक रूप से संग्रहित करके रखने तथा अपराधियों की जेल से रिहाइ पर पैनी नजर रखने ताकि रिपीट आफेन्डरस् को पकडा जा सके। तथा अपराधियों का स्ट्रांग डाटाबेस तैयार करने तथा साफ्टवेयर में अपडेट करने हेतु आवश्यक निर्देश दिये गये।  संगठित गिरोह एवं माफियाओं (भू—माफिया, विवादित प्रॉपर्टी, रेत माफिया, स्कूल में एडमीशन कराने वाले, फर्जी अंकसूची बनाने वाले आदि) गिरोहो पर कठोर प्रभावी कार्यवाही किये जोन हेतु निर्देश दिये गये।  साथ ही पुलिस महानिरीक्षक द्वारा वर्ष के अन्त तक  लंबित सभी प्रकरणो का निराकरण तत्परता पूर्वक किये जाने तथा नव वर्ष में बेहतर पु​लसिंग करने एवं पी​डितो को त्वरित न्याय दिलाने इत्यादि बातो के संबंध में आवश्यक जानकारी दी गई।