ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
पीडीएस भवन निर्माण में लापरवाही बरते वाले सचिवो एवं रोजगार सहायको पर करे कड़ी कार्यवाही:-कलेक्टर
January 13, 2020 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • उर्जाधानी


13 सचिवो तथा 13 रोजगार सहायको का दो दो संप्ताह का वेतन काटने का दिये निर्देश

वैढ़न,सिंगरौली। जिले में डीएमएफ मद से 145 पीडीएस भवनो के निर्माण हेतु राशि का आवंटन किया गया था। जिसमें तीनो विकास खण्डो की कुल 13 पंचायतो में पीडीएस भवनो का निर्माण कार्य  पंचायत सचिवो के द्वारा प्रारंभ नही कराया गया है। इस कार्य मे लापरवाही बरतने वाले एवं कर्तव्यो एवं दायित्वो का सही ढंग से निर्वहन न करने वाले संबंधित पंचायतो के सचिवो एवं रोजगार सहायको का दो दो संप्ताह का वेतन काटने का निर्देश कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित समय सीमा बैठक के दौरान कलेक्टर श्री केवीएस चौधरी के द्वारा संबंधित विभाग के अधिकारी को दिया गया। साथ यह भी निर्देश दिया गया कि संबंधित पंचायतो के सरपंचो के विरूद्ध भी धारा 40 के तहत कार्यवाही की जाये।
   बैठक के दौरान कलेक्टर श्री चौधरी के द्वारा डीएमएफ मद से स्वीकृत पीडीएस भवन, आदिवासी छात्रावासो, आगनवाड़ी भवनो के निर्माण कार्य की समीक्षा की गई तथा कहा गया कि  समस्त निर्माण कार्यो को तय समय सीमा पूर्ण कराने के निर्देश दिये गये थे। साथ ही कई बैठको के दौरान यह भी निर्देश दिये गये थे कि निर्माण कार्य से सबंधित भूमि चयन आदि के संबंध में जो भी कठिनाईया आ रही हो उसे तत्काल उस क्षेत्र के उपखण्ड अधिकारी, तथा तहसीलदार से संम्पर्क कर  समस्याओ को हल किया जाये। इसके बावजूद भी संबंधितो के द्वारा कार्य रूचि नही ली गई। जो लापरवाही की श्रेणी में आता है। एसे सचिवो एवं रोजगार सहायको के साथ साथ संबंधित पंचायत के सरपंचो के विरूद्ध भी कार्यवाही की जाये। कलेक्टर ने निर्देश दिया कि  बैढ़न जनपद पंचायत के आठ, देवसर के तीन एवं चितरंगी जनपद पंचायत के  के दो सचिवो एवं रोजगार सहायको का वेतन काटा जाये।
   कलेक्टर ने गिरदावरी के प्रगति की समीक्षा करते हुये निर्देश दिया कि गिरदावरी में जो त्रृटि हो उसका वास्तविक मिलान कर पोर्टल मे अपलोड करे। साथ ही प्रत्येक पटवारी अपने अपने क्षेत्रो के तीस तीस खसरा, नक्शा, वटनवारा के प्रकरणो जीआईएस पोर्टल में प्रति माह दर्ज करे। साथ उन्होने निर्देश दिया कि निर्धारित लक्ष्य के अनुसार राजस्व वशूली किया जाना सुनिश्चित करे। कलेक्टर के द्वारा खाद्यान पात्रता पर्ची के भौतिक संत्यापन  के साथ ही वनाधिकार के अमान्य दावो के  प्रगति की जानकारी लेने के बाद निर्देश दिये कि अभी भी लक्ष्य के अनुसार सत्यापन कार्य नही किया जा रहा है। जिन दलो के द्वारा 50 प्रतिशत से कम सत्यापन का कार्य किया गया है। उनका प्रस्ताव तैयार सात दिवस का  वेतन काटने की कार्यवाही करे। उन्होने कृषि एवं खाद्यान विभाग के अधिकारियो को निर्देश दिये कि धान खरीदी केन्द्रो का सतत भ्रमण करते रहे तथा यूरिया खाद की कमी न होने पाये इसकी भी विशेष निगरानी की जाये।
   कलेक्टर के द्वारा मिशन इंन्द्रधनुष के तहत चल रहे विशेष टीकाकरण अभियान के प्रगति की जानकारी लेने के बाद निर्देश दिया गया कि लक्ष्य के अनुरूप शत प्रतिशत टीकाकारण का कार्य किया जाये कोई भी बच्चा टीकाकरण से वंचित न रहे इसकी सत्त निगारानी की जायें। उन्होने जनसुनवाई सीएम हेल्प लाईन तथा आपकी सरकार आपके द्वार शिविर में प्राप्त होने वाले आवेदन पत्रो के निराकरण की विभाग वार समीक्षा करते हुयें निर्देश दिये कि जिन विभागो द्वारा अभी तक आवेदन पत्रो का निराकरण नही किया गया है संबंधित विभाग के अधिकारी तीन दिन के अंदर आवेदनो का निराकरण किया जाना सुनिश्चित करे। इसके अलाव समस्त उपखण्ड अधिकारियो को निर्देश दिया गया कि जिन छात्रो का अभी तक जाति प्रमाण पत्र नही बना है उनका जाति प्रमाण पत्र आवेदन प्राप्त होते ही तत्काल बनाकर दिया जाना सुनिश्चित करे। बैठक के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ऋतुराज, अपर कलेक्टर  बी.के पाण्डेंय, संयुक्त कलेक्टर व्हीपी पाण्डेंय, डिप्टी कलेक्टर एसपी मिश्रा, एसडीएम ऋषि पवार, रवि मालवीय,मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी आरपी पटेल, उप संचालक कृषि अशीष पाण्डेंय,खनिज अधिकारी एके राय, आबकारी अधिकारी अनिल जैन, जिला शिक्षा अधिकारी बृजेश मिश्रा, डीपीसी आरके दुबे, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास संजय खेडकर सहित जिलाधिकारी उपस्थित रहे।