ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
निर्मला के बाद केंद्रीय मंत्री बोले, 'प्याज नहीं खाता हूं, कैसे पता होगा बाजार का हाल'
December 5, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • देश विदेश

 नई दिल्ली
देश में प्याज के आसमान छूते दामों पर केंद्र सरकार के मंत्रियों की ओर से अजीबोगरीब बयान आ रहे हैं। पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बोलीं कि वह प्याज नहीं खाती हैं। उनके बाद अब केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने ऐसा ही बयान दिया है। 
 
उन्होंने कहा, 'मैं शाकाहारी हूं। कभी प्याज नहीं खाया है। तो मेरे जैसा इंसान प्याज के दामों के बारे में कैसे जानेगा।' केंद्रीय मंत्री ने वित्त मंत्री के बयान का भी बचाव किया। उन्होंने कहा, 'ऐसा कहां कहा उन्होंने। उन्होंने संसद में डटकर बयान दिया और बताया कि सरकार क्या—क्या योजना लेकर आई है। सीतारमण जी ने किसी प्रकार का कोई विवादास्पद बयान नहीं दिया है।'

उनसे पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में कहा था कि वह प्याज नहीं खाती हैं। एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा था कि वह ऐसे परिवार से हैं, जहां प्याज, लहसुन खाने का शौक नहीं है। 

निर्मला सीतारमण के बयान पर जेल से बाहर आए पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने करारा हमला बोला। उन्होंने पूछा कि अगर वह प्याज नहीं खाती हैं, तो फिर क्या खाती हैं? क्या वह एवोकैडो खाती हैं? एवोकैडो एक प्रकार का फल है, जो काफी महंगा आता है।

भाजपा सांसद अश्विनी चौबे पहले भी विवादित बयान देते रहे हैं। उन्होंने बक्सर के सदर अस्पताल में डिजिटल एक्सरे और अल्ट्रासाउंड की सुविधा को बहाल करने का वादा किया था। जब सामाजिक कार्यकर्ताओं ने उन्हें वादा याद दिलाया तो वह भड़क गए और अपना आपा खो दिया। उन्होंने उनके हाथों से बैनर छीनकर फाड़ दिया और उन्हें भाग जाने को कह दिया।

इससे पहले केद्रीय मंत्री ने 24 सितंबर को जनता दरबार में एक थानेदार को वर्दी उतरवाने की धमकी दी थी। चौबे ने 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान बक्सर के एसडीएम के साथ बदतमीजी की थी।