ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
निर्भया के दोषियों के खिलाफ अभी जारी नहीं होगा डेथ वारंट, 7 तक टली सुनवाई
December 18, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY


नई दिल्‍ली । सुप्रीम कोर्ट ने निर्भया कांड के दोषी अक्षय कुमार की पुनर्विचार याचिका को खारिज कर दिया है। उल्लेखनीय है कि ‍निर्भया कांड के एक दोषी अक्षय कुमार ने फांसी की सजा को कम करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर की थी, जिसे शीर्ष अदालत ने ठुकरा दिया है। दोषियों के वकील एपी सिंह ने कहा कि उनके मुवक्किल की ओर से सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव याचिका दाखिल की जाएगी। सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद अक्षय के वकील एपी सिंह ने क्‍यूरेटिव पीटिशन दाखिल करने की बात कही है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा अक्षय की पुनर्विचार याचिका खारिज किए जाने के बाद दिल्‍ली की पटियाला हाउस कोर्ट में निर्भया की मां की अर्जी पर सुनवाई की गई। कोर्ट ने कहा जब तक दोषियों की दया याचिका राष्ट्रपति के पास से खारिज नहीं हो जाती, तब तक डेथ वारंट जारी नहीं किया जा सकता। इसके साथ ही कोर्ट ने सुनवाई 7 जनवरी तक के लिए टाल दी। 
सुनवाई के दौरान सरकारी वकील ने कहा यदि दोषियों को 14 दिन का समय दिया जाता है, तो मामले में डेथ वारंट जारी किया जा सकता है। निर्भया की मां ने पटियाला हाउस कोर्ट में याचिका दायर कर दोषियों को जल्‍द फांसी देने की मांग की थी। निर्भया की मां की याचिका पर सुनवाई के दौरान पटियाला हाउस कोर्ट के जज ने कहा कोर्ट को प्रिंसिपल ऑफ जस्टिस के सिद्धांत को फॉलो करना होगा।
सरकारी वकील ने दलील दी की दोषियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी होने के बाद भी सात दिन का समय दिया जाता है। मालूम हो कि ‍निर्भया कांड के एक दोषी अक्षय कुमार ने फांसी की सजा को कम करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर की थी, जिसे शीर्ष अदालत ने ठुकरा दिया है। दोषियों के वकील एपी सिंह ने कहा कि उनके मुवक्किल की ओर से सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव याचिका दाखिल की जाएगी।
निर्भय के पिता ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर भावुक टिप्‍पणी की है। उन्‍होंने कहा कि उनका अब तक का सफर दर्द भरा और एक-एक पल भारी रहा है। पटियाला हाउस कोर्ट की ओर से यचिका पर फैसला टालने के बाद निर्भया के पिता की आंखों में आंसू आ गए। पटियाला हाउस कोर्ट का फैसला आने से पहले निर्भया की मां ने कहा था कि उन्‍होंने सात वर्षों तक सब्र रखा अब फैसले की घड़ी नजदीक है। यह मामला पिछले सात सालों से कोर्ट चल रहा है। सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद अब अक्षय के वकील एपी सिंह ने क्‍यूरेटिव पीटिशन दाखिल करने की बात कही है।