ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
किसान की बेटी ने गोल्ड मेडल जीतकर अपनी समाज का किया नाम रोशन
December 12, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश


विशाल रजक भोपाल-9630278207!

बेटियां हैं उन्हें फूल की तरह खिलने दें पढ़ने दें खेलने दें और समाज उन्हें सुरक्षा प्रदान करें इसके बाद देखें कि ये बेटियां कैसे देश की शोभा में चार चांद लगाती है हमारे सभ्य समाज में लड़कियों को देखने का नजरिया बदलना होगा।भोपाल में 8 दिसंबर से चल रहे ताइक्वांडो चैपियनशिप में मंगलवार को  भोपाल निवासी श्री मुकेश रजक की पुत्री खुशबू रजक ने ताईक्वांडो चैपियनशिप म़े गोल्ड मेडल जीतकर अपने माता पिता का नाम रोशन किया आपको बता दें खुशबू रजक के  परिवार के लोग खेती किसानी करते हैं और उनके पिता एक किसान है आपको बता दें कि जब खुशबू अपनी समाज के सामने नाम रोशन कर घर लौटी और बेटी के पास गोल्ड मेडल देखकर माता पिता की आंखें में आंसू से भीग गई किसान मुकेश रजक ने कभी भी अपनी बेटी को आगे बढ़ने से नहीं रोका मंगलवार को जब खुशबू रजक अपने घर पहुंची तो उसे गले लगाकर माता पिता खुद के आंसू नहीं रोक सकें मुकेश रजक ने कहा कि बेटी ने मेरा नाम दुनिया और समाज के सामने रोशन किया है मुझे अपनी बेटी खुशबू पर गर्व है
जब इस संबंध में खुशबू रजक से बात की गई तो उन्होंने कहा कि मेरे लिए इस गेम में आगे बढ़ना आसान नहीं था क्योंकि मेरे परिवार के किसी भी सदस्य ने न तो इस गेम को कभी खेला है और न ही इस गेम के बारे में कोई जानकारी थी बावजूद इसके न मेरे परिजनों और न ही मैने कभी हौसला हारा ओर तमाम मुश्किलों के बावजूद में आगे बढ़ती रही
रजक महासंघ मध्यप्रदेश के संरक्षण गोर्वधन धारवा और प्रदेश अध्यक्ष केशलाल रजक प्रदेश महासचिव बल्ली रजक(राम भरत) कार्यकारी अध्यक्ष ओपी बाथरी ने कहा कि बेटी को पढ़ा लिखा कर शादी करने के बाद चूल्हा चौका तक सीमित रखना अब पुरानी बात हो गई है बेटियां हर क्षेत्र में अपना व परिजनों का नाम रोशन कर रही है गरीबी में पली बढ़ी हेमादास हो या फिर कुश्ती के क्षेत्र में नाम रोशन करने वाली फोगट बहनें उनकी राह पर अब हमारे प्रदेश की ओर समाज की बेटी खुशबू रजक भी चल पड़ी है किसान माता पिता की बेटी खुशबू रजक के अपने जूनून को सीढ़ी बनाकर कामयाबी के शिखर पर पहुंची है 
वहीं रजक समाज में आयुक्त निःशक्तजन कमिश्नर संदीप रजक ने कहा कि यह सम्मान हमारी रजक समाज के लिए गर्व की बात है एक सामान्य एवं किसान परिवार की बेटी ने अपने जज्बे और आत्मविश्वास के बल पर अपने माता पिता और परिवार नाम रोशन किया अपनी समाज की बेटी ने संसाधनों के अभाव में अपने हौसले के दम पर इस खेल के क्षेत्र में प्रदेश और अपनी रजक समाज का नाम रोशन किया है
खुशबू रजक की इस जीत पर रजक महासंघ मध्यप्रेदश संरक्षण गोर्वधन धारवा प्रदेश अध्यक्ष केशलाल रजक प्रदेश महासचिव बल्ली रजक(रामभरत) कार्यकारी अध्यक्ष ओपी बाथरी मध्यप्रदेश आयुक्त निःशक्तजन कमिश्नर संदीप रजक  झाबुआ से चेतना चौहान रवि रजक अशोक रजक विजय रजक सुरेश कनौजिया अल्केश रजक मोनू रजक शीतल रजक उमेश रजक धर्मेंद्र रजक हिलौंदा सागर से प्रवीन रजक पुष्पेंद्र रजक दमोह रामलाल प्रणमी तेन्दूखेड़ा से रजक समाज अध्यक्ष भागीरथ रजक पाटन से रोहित रजक  विजय रजक भुवनेश्वर रजक धनश्याम रजक लक्ष्मीकांत रजक कृष्णपाल रजक  दादू हिलौधा सधीरन प्रसाद रजक कोदूलाल रजक भूपेंद्र रजक सतीशराज रजक रोहिणी रजक अंकिता रजक चाहना रजक आशीष रजक सिंगरौली राजेश रजक एवं सभी रजक समाज के लोगों ने खुशबू रजक और उनके परिवार के लोगों को बधाई दी है और खुशबू रजक के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते है