ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
कलेक्टर ने "उत्कर्ष कौशल केन्द्र" के प्रशिक्षितो को प्रमाण पत्र के साथ करीब 49 युवक एवं युवतियों को वेलस्पन कंपनी का दिया गया ज्वाइनिंग लेटर, बने आत्मनिर्भर - केवीएस चौधरी
January 14, 2020 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • उर्जाधानी

सिंगरौली (जमुना सोनी) बैढन "आपकी सरकार आपके द्वार" के तहत मध्य प्रदेश कैबिनेट मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री - प्रदीप जायसवाल एवं द्वय पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री- कमलेश्वर पटेल के दिशा - निर्देशन में सिंगरौली जिले में बेरोजगारी को दूर करने के उद्देश्य से जिला कलेक्टर- केवीएस चौधरी द्वारा सूझ - बूझ दिखाते हुये जिले के बेरोजगार युवाओ को नौकरी एवं व्यवसाय उपलब्ध कराने हेतु डीएफएम फंड से "उत्कर्ष कौशल केंद्र" का स्थापना कर आजीविका मिशन के तहत जिले भर के चितरंगी - देवसर- सरई - माड़ा - बैढन तहसील क्षेत्र के इच्छुक युवक - युवतियों को नि:शुल्क में खाने - रहने  के साथ 40 दिन का सिलाई मशीन प्रशिक्षण कार्यक्रम दिया गया है जिसमे कुछ ही महीने में अब तक कुल लगभग 85 प्रशिक्षित युवक और युवतियों को बाहर से ट्रेनर बुलाकर प्रशिक्षण दिया गया जो अब आत्मनिर्भर हो चुके है ।वही आज दिनांक 14/01/2020 को आज सुबह लगभग 11:00 बजे जिला कलेक्टर- केवीएस चौधरी (आईएएस) और जिला पंचायत सीईओ- ऋतुराज (आईएएस) के द्वारा सिलाई से सम्बन्धित प्रशिक्षित लगभग 49 युवक और युवतियों का परिचय लेते हुये सिलाई प्रशिक्षण प्रमाण - पत्र और कम्पनी का ज्वानिंग लेटर देकर उज्जवल भविष्य की कामना की और साथ ही "वेलस्पन लिमिटेड इंडिया" अंजार - कच्छ (गुजरात) के टेक्सटाइल गारमेंट्स कंपनी में ट्रेनीज मशीन ऑपरेटर के पद पर 26 जनवरी 2020 को नौकरी करने के लिये गुजरात रवाना किये जायेगे और इसके पूर्व में लगभग 35 युवक एवं युवतियों को ट्रेनिंज मशीन ऑपरेटर के पद पर बैंगलोर के टेक्स्टाइल गारमेंट कंपनी में नौकरी हेतु भेजा गया है जो अभी भी नौकरी कर रहे हैं ।वही आज वेलस्पन टेक्सटाइल गारमेंट्स कम्पनी के क्षेत्रीय अधिकारी द्वारा बताया गया कि नौकरी पर जा रहे युवक एवं युवतियों को 45 दिवस तक 8200/- (बयासी सौ रुपये) प्रतिमाह के हिसाब से मानदेय प्राप्त होगा और उसके बाद 3 -3 महीने में मानदेय की बढोत्तरी होगी और ओवर टाइम के साथ -साथ पीएफ - मेडिकल वगैरह अन्य सुविधाएं है ।वही कलेक्टर श्री चौधरी द्वारा प्रशिक्षित युवक और युवतियों  को बताया गया कि अपने आसपास रहने वाले युवक एवं युवतियों को इस मिशन से जुड़ने के लिये जरूर बताये और इस वर्ष के सत्र में कम से कम इस प्रकार से जिले में 500 लोगो को नौकरी - व्यवसाय दिलाने का लक्ष्य है और आगे वेल्डर (वेल्डिंग) के कार्य का प्रशिक्षण दिये जाने की चर्चा हुई और वही जल्द ही दिनांक 20/01/2020 और  30/01/2020 दिनांक को फिर से निःशुल्क में सिलाई प्रशिक्षण का कार्य हेतु फार्म भरे जायेंगे एवं प्रशिक्षण प्रारंभ होगा यह कार्यालय ट्रामा सेन्टर नया जिला अस्पताल के बगल में "उत्कर्ष कौशल केंद्र" स्थित है ।उक्त अवसर पर मुख्य रूप से जिला कलेक्टर- केवीएस चौधरी, जिला पंचायत सीईओ- ऋतुराज, यशोधर सिंह (रीजनल), कामता सिंह (जोनल), सिलाई मशीन प्रशिक्षिका- कल्पना तिवारी, अर्चना सिंह, आजीविका मिशन प्रभारी - कमल श्रीवास्तव, मंगल सिंह, जिला जनसंपर्क प्रभारी- बी.के. शर्मा सहित अन्य लोग मौजूद रहे ।