ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
कैलाश विजयवर्गीय खुद तय करें वे किसके नेता, बीजेपी के या फिर माफियाओं के : मुख्यमंत्री
January 5, 2020 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश

छिंदवाड़ा। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि कैलाश विजयवर्गीय को खुद तय करना है कि वह भारतीय जनता पार्टी के नेता बना रहना चाहते हैं या माफियाओं के। मुख्यमंत्री सतना में कई सतना में कई स्थानीय कार्यक्रमों में भाग लेने के बाद दो दिन के दौर पर छिंदवाड़ा पहुंचे। यहां उन्होंने हवाई पट्टी पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए ये बात कही। 

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि यूरिया का संकट प्रदेश में केंद्र सरकार द्वारा पैदा किया गया है। उनकी गलत नीतियों के कारण किसान परेशान हो रहे हैं। उन्होंने महात्मा गांधी जी के 150वीं जयंती पर कहा कि युवा पीढ़ी को महात्मा गांधी के विचारों से अवगत होने की बेहद जरूरत है। 

इससे पहले सतना में बीटीआई मैदान में संविधान बचाओ रैली को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के सभी किसानों का कृषि ऋण माफ किया जाएगा। उन्होंने नागरिक संशोधन अधिनियम (सीएए) पर केन्द्र की भाजपा सरकार को घेरते हुए कहा कि संविधान संशोधन बिल जनता को परेशान करने वाला कानून है। केन्द्र सरकार इस कानून के जरिए आप से हिन्दू होने का प्रमाण मांगेगी और जो लोग प्रमाण नहीं दे पायेंगा, उन्हें डिटेंशन सेंटर भेज दिया जाएगा। 

उन्होंने पूर्ववर्ती भाजपा सरकार को महज घोषणायें करने वाली सरकार बताते हुए कहा कि भाजपा सरकार किसानों और बेरोजगारों के संबंध में सोचती तक नहीं थी, लेकिन अब प्रदेश में काम करने वाली सरकार है। हमारी सरकार ने एक साल के भीतर बहुत काम किए हैं। उन्होंने जिले के कई विकास कार्यो का लोकार्पण और शिलान्यास भी किया।