ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
हिंसक घटना के बाद पूरे लोहरदगा जिले में कर्फ्यू
January 24, 2020 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • देश विदेश


बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती, 12 अतिरिक्त डीएसपी की प्रतिनियुक्ति
रांची । झारखंड के लोहरदगा में गुरुवार को सीएए और एनआरसी के समर्थन में निकाली गयी जुलूस पर पथराव, हिंसक झड़प, तोड़फोड़ और आगजनी तथा फायरिंग की घटना के  बाद प्रशासन ने शुक्रवार को पूरे जिले में कर्फ्यू लगाने की घोषणा कर दी है । पूरे जिले में बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है. दंडाधिकारियों के साथ पुलिस बल की गश्ती का सिलसिला लगातार जारी है । संवेदनशील इलाकों में पुलिस की विशेष नजर है । हर तरफ पुलिस नजर आ रही है और पूरे इलाके को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। कर्फ्यू मे फंसे लोगों को पुलिस उनके गंतव्य तक पहुंचा रही है। अभी तक कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। इलाके में उत्पन्न तनाव को देखते हुए डीएसपी स्तर के बारह पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गयी है।
कर्फ्यू के मद्देनजर सभी सरकारी कार्यालय और स्कूलों में छुट्टी कर दी गयी है, गणतंत्र दिवस का फाइनल रिहर्सल भी आज स्थगित रहा।
जिले की उपायुक्त आकांक्षा रंजन ने बताया कि लोहरदगा जिला  में व्याप्त विधि- व्यवस्था की समस्या को देखते हुए सम्पूर्ण जिला में कर्फ्यू लगाया गया है। उन्होंने बताया कि कर्फ्यू की अवधि में किसी भी व्यक्ति का अपने घर से बाहर निकलना वर्जित निषिद्ध है। उपायुक्त ने लोगों से शांति बनाय रखने और अफवाहों पर ध्यान नही देने की अपील की है।  किसी प्रकार का सरकारी-निजी  संपत्ति का तोड़ फोड़ अथवा आगजनी नही करें, ऐसा करते पाए जाने पर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। जिला प्रशासन की ओर से किसी प्रकार की अप्रिय स्थिति होने पर दूरभाष संख्या 06526-222513 अथवा 100 पर प्रशासन को सूचित करने की अपील की गयी है।  
कर्फ्यू के कारण लोहरदगा-रांची पैसेंजर ट्रेन का परिचालन सुबह में बंद है, जिसके कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।