ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
गुरु गोविन्‍द सिंह का जीवन और शिक्षाएं आज भी प्रासंगिक : राष्ट्रपति कोविंद
January 2, 2020 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY


-सिखों के दसवें गुरु की 353वीं जयंती पर राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी शुभकामनाएं
नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि गोविन्‍द सिंह का जीवन और शिक्षाएं आज भी प्रासंगिक है। सिखों के दसवें गुरु की 353वीं जयंती पर राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने शुभकामनाएं दी हैं। राष्ट्रपति कोविंद ने कहा- 'गुरु गोविन्‍द सिंह जी को उनकी जयन्‍ती पर मेरी श्रद्धांजलि। उनका जीवन लोगों की सेवा और सत्‍य, न्‍याय एवं करुणा के जीवन-मूल्यों के प्रति समर्पित रहा। गुरु गोविन्‍द सिंह जी का जीवन और शिक्षाएं हमें आज भी प्रेरित करती है और कहा कि गुरु गोबिंद ने जिन चीजों के लिए संघर्ष किया वह आज भी प्रासंगिक है।'
इसके साथ ही उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने सिखों के दसवें गुरु गोबिंद सिंह की जयंती पर देशवासियों को शुभकामनायें देते हुए उनके जीवन को सभी के लिए अनुकरणीय बताया। नायडू ने ट्वीट किया, 'आज गुरु गोबिंद सिंह जी की जयंती के पावन अवसर पर पूज्य गुरु की स्मृति को सादर नमन करता हूं तथा देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं। 'उन्होंने कहा, 'गुरु गोबिंद सिंह जी का जीवन संदेश तथा उनके कृतित्व हमारे राष्ट्रीय, सामाजिक और निजी जीवन में आज भी अनुकरणीय हैं। उनकी शिक्षा हमारे राष्ट्रीय जीवन का मार्ग दर्शन करे और हमें प्रेरणा दे कि हम मानवता के काम आ सकें।'
वहीं प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, 'दसवें गुरु साहिब, गुरु गोबिंद सिंह जी के प्रकाश पर्व पर हम उन्हें नमन करते हैं।' प्रधानमंत्री ने एक वीडियो भी साझा किया जिसमें बताया गया कि उन्होंने अन्याय और जातिगत भेदभाव के खिलाफ किस तरह संघर्ष किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि गोबिंद सिंह का दर्शन और उनके आदर्श 'नए भारत' के लिए प्रासंगिक हैं। पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावडेकर ने भी गुरु गोबिंद सिंह की जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके जीवन संदेश को प्रेरणादायी बताया। जावडेकर ने ट्वीट किया, सिख धर्म के 10वें और अंतिम गुरु गोबिंद सिंह जी के प्रकाश पर्व पर उन्हें मेरा नमन और श्रद्धांजलि।