ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
एनटीपीसी विंध्याचल में 17वीं उत्तरी क्षेत्र प्रोफेशनल सर्किल सम्मेलन का किया गया आयोजन
December 24, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • उर्जाधानी


काल चिंतन संवाददाता
वैढ़न,सिंगरौली। राष्ट्र की विशालतम विद्युत सयंत्र एनटीपीसी विंध्याचल में 17वीं उत्तरी क्षेत्र प्रोफेशनल सर्किल सम्मेलन का आयोजन एनटीपीसी विंध्याचल के उमंग भवन के सृजन हाल में आयोजित किया गया । इस 17वीं उत्तरी क्षेत्र प्रोफेशनल सर्किल सम्मेलन में उत्तरी क्षेत्र की विभिन्न परियोजनाओं से कार्यपालकों की कुल 10 टीमों नें भाग लिया। परियोजना स्तरीय प्रोफेशनल सर्किल प्रतियोगिता में कार्यपालकों की विजयी टीमों नें अपने कार्य क्षेत्र तथा स्टेशन स्तर के उद्देश्यों से संबन्धित विषयों पर प्रस्तुति दी। प्रोफेशनल सर्किल का उद्देश्य ज्ञान साझा करने के माध्यम से कार्यपालकों की व्यावसायिक वृद्धि को बढ़ावा देना है और व्यावसायिक चुनौतियों को पूरा करने की दिशा में उनके प्रयासों का लाभ उठाना है। कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि क्षेत्रीय कार्यकारी निदेशक (उत्तर) श्री के.के. सिंह, कार्यकारी निदेशक (विंध्याचल) श्री देबाशीष सेन, परियोजना प्रमुख शक्तिनगर श्री देबाशीष चट्टोपाध्याय, मुख्य महाप्रबंधक (विंध्याचल), श्री सुनील कुमार, महाप्रबंधक (प्रचालन एवं अनुरक्षण) रिहंद श्री अनंत चरण साहू, महाप्रबंधक(एस एस सी) श्री विपन कुमार, महाप्रबंधक(तकनीकी सेवाएँ) उत्तरी क्षेत्र श्री राहुल श्रीवास्तव, अपर महाप्रबंधक (बी ई) उत्तरी क्षेत्र मुख्यालय श्री यू.एस. गुप्ता एवं अन्य गणमान्य अतिथियों की उपस्थिति में दीप प्रज्वलन एवं एनटीपीसी गीत के साथ किया गया । 
मुख्य अतिथि क्षेत्रीय कार्यकारी निदेशक (उत्तर) नें अपने उद्बोधन में एनटीपीसी की कार्यशैली तथा संस्कृति में प्रोफेशनल सर्किल के अमूल्य योगदान की प्रसंशा की तथा उन्होनें सभी प्रतिभागी टीमों को अच्छा प्रदर्शन करने हेतु प्रोत्साहित किया तथा उन्होनें अन्य परियोजनाओं के प्रतिभागियों को भी इस तरह की प्रतियोगिता में भाग लेने हेतु प्रेरित करने हेतु सुझाव दिया। इस अवसर पर कार्यकारी निदेशक (विंध्याचल) श्री देबाशीष सेन नें अपने वक्तव्य में एनटीपीसी विंध्याचल की उपलब्धियों को सभी के समक्ष साझा किया तथा साथ ही उन्होनें यह भी कहा कि कार्यपालकों द्वारा नवप्रवर्तनशील सुझावों से कार्यक्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करने में मदद मिलेगी। परियोजना प्रमुख  शक्तिनगर श्री देबाशीष चट्टोपाध्याय नें इस अवसर पर अपने विचार प्रकट करते हुये कहा कि प्रोफेशनल सर्किल सम्मेलन हमारे युवा अधिकारियों के लिए अपने कार्यक्षेत्र एवं परियोजना से संबन्धित विषयों पर प्रस्तुति करने का एक उत्कृष्ट मंच है और उन्होनें प्रतिभागी टीमों को बेहतर प्रदर्शन करने हेतु प्रेरित किया एवं शुभकामनाएँ दी।
इसके पूर्व महाप्रबंधक(तकनीकी सेवाएँ) श्रीमती संगीता कौशिक ने अपने स्वागत सम्बोधन में 17वीं उत्तरी क्षेत्र प्रोफेशनल सर्किल सम्मेलन के विषय मे सभी को अवगत कराया तथा साथ ही मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि तथा सभी परियोजनाओं से पधारे प्रतिभागीगणों का स्वागत किया। निर्णायक मण्डल में श्री समीर नायक, ज्वाइंट प्रेसिडेंट एवं प्रमुख, हिंडाल्को इंडस्ट्रीज़ लि॰ महान, प्रमुख (प्रचालन एवं अनुरक्षण) श्री आनंद देशपांडे सासन अल्ट्रा मेगा पावर प्रोजेक्ट रिलायन्स पावर लि॰ एवं महाप्रबंधक (क्षेत्रीय ज्ञानार्जन संस्थान) एनटीपीसी विंध्याचल श्री पंकज एकबोटे नें निर्णायक की भूमिका निभाई। निर्णायक मण्डल नें उत्तरी क्षेत्र प्रोफेशनल सर्किल की सभी टीमों का प्रस्तुतीकरण, रिसर्च एवं विषय पर कवरेज, लागू करने की क्षमता, प्रत्येक सदस्यों द्वारा प्रस्तुति की प्रतिभा एवं प्रस्तुति में योगदान तथा निर्णायक मण्डल द्वारा पूछे गए प्रश्नो पर दिये गए उत्तर के आधार पर एनटीपीसी विंध्याचल की दक्षम टीम को प्रथम, एनटीपीसी शक्तिनगर की वोएजर टीम को द्वितीय एवं एनटीपीसी रिहंद की प्रवाह टीम को तृतीय स्थान से नवाजा गया। क्षेत्रीय स्तर पर विजयी प्रथम विजेता टीम नैगम स्तर पर आयोजित होने वाली प्रोफेशनल सर्किल सम्मेलन में उत्तरी क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करेगी। इस प्रोफेशनल सर्किल सम्मेलन में कुल 10 टीमों नें भाग लिया, जिसमें एनटीपीसी विंध्याचल परियोजना की फोनिक्स टीम नें यूनिट 2 क्लिंकरिंग केस स्टडी, दक्षम टीम नें डाटा एनलिटिक्स एंड अगुमेंटेसन विथ नॉलेज एंड सेफ़्टी सिमुलेशन एंड हेबिटेट एसस्मेंट एंड मैनेजमेंट तथा प्रयास टीम नें इन्हेंसिंग कुलिंग टावर परफॉर्मेंस विषय पर प्रस्तुति दी। इसके साथ ही एनटीपीसी सिंगरौली परियोजना की वोएजर टीम नें द इंटीग्रेशन मेकिंग ऑब्सोलेसेंस अबसोलीट, ओप्टिमैक्स टीम नें औक्सिलियरी पावर रिडक्सन तथा पावरक्वेस्ट टीम नें क्राइसिस मेनेज़मेंट  कंपीटेंसी बिल्डिंग विषय पर अपनी प्रस्तुति दी। वहीं एनटीपीसी रिहंद परियोजना की उदय टीम नें एनर्जी स्टोरेज सिस्टम- एनटीपीसी फ्यूचर प्रोस्पेक्ट्स, मंथन टीम नें प्रिवेंटिव एंड प्रमोशनल हैल्थकेयर एक्टिविटीज़ तथा प्रवाह टीम नें एपीसी रिडक्सन थ्रू शिफ्टिंग ऑफ एनर्जी मिटर्स एट स्विचयार्ड विषय पर प्रस्तुति दी। इसके अतिरिक्त प्रतियोगिता में एनटीपीसी मेजा परियोजना से जिज्ञासा टीम नें बिल्डिंग ए लर्निंग ऑर्गनाइज़ेशन विषय पर अपनी प्रस्तुति दी। कार्यक्रम के समापन अवसर पर क्षेत्रीय कार्यकारी निदेशक (उत्तर) श्री के.के. सिंह, कार्यकारी निदेशक (विंध्याचल) श्री देबाशीष सेन एवं अन्य गणमान्य अतिथियों नें विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया। इस अवसर पर  प्रतियोगिता के सभी प्रतिभागियों को सम्मान स्वरूप स्मृति चिन्ह भी प्रदान किया गया । साथ ही निर्णायक मण्डल के सभी सदस्यों को भी स्मृति चिन्ह प्रदान कर उनके बेहतर निर्णय की प्रसंशा की गई।