ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
दिल्ली / 22 दिसंबर को रामलीला मैदान की रैली में मोदी पर हमला कर सकते हैं आतंकी: खुफिया रिपोर्ट
December 20, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • देश विदेश

नई दिल्ली. पाकिस्तान के आतंकी गुट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमले की साजिश रच चुके हैं। खुफिया एजेंसी से मिली जानकारी के मुताबिक, 22 दिसंबर को रामलीला मैदान में भाजपा की महारैली के दौरान आतंकी प्रधानमंत्री को निशाना बना सकते हैं। प्रधानमंत्री की सुरक्षा में लगे स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) और दिल्ली पुलिस को इसकी सूचना दे दी गई है।

केंद्रीय एजेंसियों के मुताबिक, उन्हें इनपुट मिले हैं कि जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी भारत भेजे जा चुके हैं और वे रामलीला मैदान में हजारों लोगों के बीच प्रधानमंत्री पर हमला कर सकते हैं। इस रैली में एनडीए सरकार से जुड़े अलग-अलग राज्यों के मुख्यमंत्री और कैबिनेट मंत्री भी शामिल होंगे। 

सरकार के हालिया फैसलों से मोदी पर खतरा बढ़ा

खुफिया एजेंसियों ने प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए गाइडलाइंस जारी कर दी हैं। कहा गया है कि 12 दिसंबर को लाए गए नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), 9 नवंबर को हुए राम जन्मभूमि फैसले और 5 अगस्त को कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से प्रधानमंत्री पर ज्यादा खतरा पैदा हो गया है। इसके अलावा पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी ठिकानों को तबाही से भी आतंकी संगठन बौखलाएं हैं। ऐसे में उनकी तरफ से हमले की बात नकारी नहीं जा सकती। 

लश्कर और जैश पहले दे चुके हैं प्रधानमंत्री पर हमले की धमकी

इससे पहले अक्टूबर में नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने जानाकारी दी थी कि लश्कर-ए-तैयबा भारत में बड़े हमले की फिराक में है। जम्मू-कश्मीर में सेना की तरफ से लागू प्रतिबंधों के खिलाफ उसने प्रधानमंत्री पर हमले की साजिश रची थी। सितंबर 2019 में भी एजेंसी को जैश-ए-मोहम्मद के शमशे वानी का धमकी भरा पत्र मिला था। इसमें उसने अनुच्छेद 370 हटाने के लिए प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और एनएसए पर हमले की बात कही थी।