ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
CAA के विरोध में प्रदर्शनों के बीच पश्चिम बंगाल पहुंचे पीएम से राजभवन में ममता ने की मुलाकात, सीएए पर जताया विरोध
January 11, 2020 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY

कोलकाता
नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध-प्रदर्शनों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल पहुंच चुके हैं। कोलकाता में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उनसे मुलाकात की। राजभवन में हुई दोनों नेताओं की यह मुलाकात करीब 20 मिनट तक चली। पीएम से मुलाकात के बाद ममता ने कहा कि उन्होंने कुछ वित्तीय मांगों के साथ पीएम से मुलाकात की। उन्होंने राज्य के हिस्से के 28 हजार करोड़ रुपये मांगे। इसके अलावा पीएम के साथ सीएए, एनआरसी और एनपीआर के मुद्दे पर बात हुई और उन्होंने अपना विरोध दर्ज कराया। टीएमसी, कांग्रेस और लेफ्ट पीएम मोदी के बंगाल दौरे का विरोध कर रहे हैं। विरोधी दलों ने कोलकाता में जगह-जगह 'गो बैक मोदी' के पोस्टर लगाए हैं। ट्विटर पर भी इसे ट्रेंड करा रहे हैं।

पीएम से मुलाकात के ठीक बाद CAA के खिलाफ धरने में पहुंची ममता
खास बात यह है कि पीएम मोदी से मुलाकात के ठीक बाद ममता बनर्जी ने टीएमसी के छात्र संगठन की ओर से सीएए के खिलाफ आयोजित धरने में हिस्सा लिया। सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस की छात्र इकाई के अलावा लेफ्ट के कार्यकर्ता भी राज्य के अलग-अलग हिस्सों में संशोधित नागरिकता अधिनियम (सीएए) के खिलाफ अलग-अलग विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं।

राजभवन में हुई मोदी-ममता की मुलाकात
कोलकाता पहुंचे पीएम मोदी से सीएम ममता बनर्जी ने राजभवन में मुलाकात की। मुलाकात के बाद ममता ने कहा कि उन्होंने पीएम से बातचीत में एनआरसी, सीएए और एनपीआर का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि वह चाहती हैं कि सीएए और एनआरसी को वापस लिया जाए। ममता ने कहा कि प्रधानमंत्री ने उन्हें इन मुद्दों पर चर्चा के लिए दिल्ली आने को कहा है। राजभवन में हुई करीब 20 मिनट की बैठक के बाद सीएम ममता बनर्जी, तृणमूल कांग्रेस की छात्र इकाई टीएमसीपी के द्वारा कोलकाता में रानी रासमणि मार्ग पर सीएए, राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) के खिलाफ धरने में शामिल होंगी। तृणमूल कांग्रेस प्रमुख एक घंटे के लिए टीएमसीपी प्रदर्शनकारियों से मिलने वाली हैं। वाममोर्चा के कार्यकर्ताओं ने शनिवार को उत्तर 24 परगना जिले के विभिन्न हिस्सों में नए नागरिकता कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया

'मोदी वापस जाओ': सीपीएम, टीएमसी का विरोध प्रदर्शन
प्रधानमंत्री का दौरा ऐसे समय में हो रहा है, जब पश्चिम बंगाल में नए नागरिकता कानून को लेकर व्यापक स्तर पर विरोध-प्रदर्शन जारी हैं। हवाईअड्डे से सिर्फ 1.5 किलोमीटर दूर दमदम क्षेत्र में वाममोर्चा के कार्यकर्ताओं ने 'मोदी वापस जाओ' लिखी हुई तख्तियां लेकर रैली निकाली। एक प्रदर्शनकारी ने कहा, 'जब तक इस कानून को वापस नहीं लिया जाता तब तक हमारा आंदोलन जारी रहेगा। हम नहीं चाहते कि नरेंद्र मोदी कोलकाता आएं क्योंकि उनके आने से हमारे शहर का माहौल बिगड़ जाएगा
राज्यपाल जगदीप धनखड़, राज्य के मंत्री फरहाद हाकिम, बीजेपी की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष और बीजेपी के अन्य वरिष्ठ नेताओं ने मोदी की अगवानी की। प्रधानमंत्री मोदी शनिवार और रविवार को कोलकाता में रहेंगे। अपनी यात्रा के दौरान मोदी कोलकाता बंदरगाह ट्रस्ट के समारोह में भाग लेंगे। प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री बनर्जी रविवार को नेताजी इनडोर स्टेडियम में एक कार्यक्रम में मंच साझा करेंगे। राज्यपाल जगदीप धनखड़ भी कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगे।