ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
भाजपा द्वारा किया गया सीएए को लेकर प्रबुद्ध जन संगोष्ठी का आयोजन
January 11, 2020 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • उर्जाधानी


काल चिंतन संवाददाता,
वैढ़न,सिंगरौली।  भारतीय जनता पार्टी जिला सिंगरौली के तत्वाधान में नागरिकता संशोधन अधिनियम के ऊपर एक सामाजिक चर्चा के लिए प्रबुद्ध जन संगोष्ठी का आयोजन होटल सागर इंटरनेशनल में रीवा सांसद जनार्दन मिश्रा जी के मुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजपा जिला अध्यक्ष वीरेंद्र गोयल ने किया। संगोष्ठी में मुख्य रूप से देश भर में नागरिक संशोधन अधिनियम की महत्ता को लेकर चर्चा की गई तथा कार्यक्रम में प्रमुख रूप से विधायक सिंगरौली राम लल्लू बैस, विधायक देवसर सुभाष रामचरित्र ,प्रदेश कार्यसमिति सदस्य गिरीश द्विवेदी ,पूर्व निगम अध्यक्ष चंद्र प्रताप विश्वकर्मा, कार्यक्रम के संयोजक राजकुमार दुबे, मंडल अध्यक्ष विंध्यनगर भारतेंदु पांडेय,उपस्थित रहे। कार्यक्रम का शुभारंभ पाथेय पुरुष पंडित दीनदयाल उपाध्याय और डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी के छाया चित्र पर दीप प्रज्वलित कर किया गया ।भाजपा जिला अध्यक्ष वीरेंद्र गोयल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से पूरे जिले में नागरिक संशोधन अधिनियम से संबंधित जनजागृति लाने का प्रयास कर रही है। जिसकी कड़ी में अभी 13 जनवरी को नागरिक संशोधन अधिनियम के संबंध में एक विशाल रैली का आयोजन वैढ़न के कृषि उपज मंडी से रामलीला मैदान तक किया जाना है। जिसमें जिले के सभी पंथ और समुदाय के लोग तिरंगा लेकर इक_ा होंगे। कांग्रेश और वामपंथी ताकतें इस अधिनियम पर भ्रम फैलाकर समाज में दंगा फसाद कराकर अराजकता का वातावरण फैला रही हैं ।लेकिन भारतीय जनता पार्टी का कार्यकर्ता सजक है वह समाज में इस तरीके की भ्रांति को फैलने नहीं देगा। रीवा सांसद जनार्दन मिश्रा ने कहा कि यह अधिनियम अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश से आए उन हिंदू ,सिख, ईसाई , जैन,बौद्ध और पारसी लोगों के लिए है जिन्हें धार्मिक आधार पर प्रताड़ित कर देश छोड़ने के लिए मजबूर किया गया है ।जो अब वर्षों से भारत में शरणार्थी के रूप में रह रहे हैं।। ऐसे लोगों के लिए माननीय नरेंद्र मोदी जी और अमित शाह जी ने उनके सम्मान की रक्षा उन्हें, रोजगार के उचित अवसर और मतदान के अधिकार देने के लिए इस संशोधन अधिनियम को पास कराया है ।यह नागरिकता देने संबंधित अधिनियम है इससे किसी की नागरिकता जाति नहीं है ।लेकिन कांग्रेसी और वामपंथी ताकते जो पहले इस अधिनियम को लागू किए जाने के पक्ष में थी अब देश में भाजपा की सरकार होने के नाते अराजक तत्वों एवं चिन्हित विश्वविद्यालयों के छात्रों को बरगला कर दंगा करा रही हैं और सरकारी संपत्ति का नुकसान किया जा रहा है। आज की संगोष्ठी का आयोजन इसलिए किया गया है कि इस अधिनियम की वास्तविकता जनता के बीच आए और लोगों के बीच भ्रम का वातावरण न बने ।उन्होंने पाकिस्तान स्थित गुरु नानक देव की जन्म स्थली ननकाना साहब का जिक्र करते हुए कहा कि कुछ दिन पहले वहां पाकिस्तानी मुसलमानों के द्वारा ननकाना साहब पर पथराव किया गया वहां के सिख भाइयों को गुरुद्वारे में कैद कर स्थान का नाम बदलकर गुलाम मुस्तफा करने की बात कही गई ।पाकिस्तान में धर्म परिवर्तन का खूनी खेल अल्पसंख्यकों के साथ खेला जाता रहा है ।वहां उनकी माताओं बहनों के साथ खुलेआम यौनाचार होता है। ऐसे में वहां की अल्पसंख्यक समाज भारत की ओर आस लगाए देखता है ।उनके हितों की रक्षा के लिए भारत प्रतिबद्ध है ।कार्यक्रम को विधायक सिंगरौली राम लल्लू बैस और विधायक देवसर सुभाष रामचरित ने भी संबोधित संबोधित किया कार्यक्रम का संचालन बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ के संयोजक प्रदीप शाह ने किया तथा आए हुए लोगों का आभार मंडल अध्यक्ष विक्रम सिंह के द्वारा किया गया ।कार्यक्रम में प्रमुख रूप से जिला उपाध्यक्ष अरविंद दुबे ,नरेश शाह ,सीमा जायसवाल, आशा यादव, मधु भूपेंद्र गर्ग ,देवेश पांडे, शारदा शर्मा ,कोमल चंद्रगुप्ता एकतीस चंद  बैस, कृष्ण कुमार कुशवाहा, सुंदर साह, प्रवीण तिवारी राजेंद्र पांडे कुश कुमार सिंह ,विनोद चौबे सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।