ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
बयान / ममता का केंद्र पर निवेश के लिए प्रतिकूल माहौल बनाने का आरोप, कहा- उद्योगपतियों में सीबीआई टैक्स का डर
December 13, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • राजनीति

कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को केंद्र सरकार पर निवेश के लिए प्रतिकूल माहौल बनाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि भारतीय उद्योगपति नियमित टैक्स के साथ-साथ सीबीआई टैक्स चुकाने को लेकर चिंता से घिरे रहते हैं। सीबीआई टैक्स से ममता का आशय केंद्रीय जांच एजेंसी से क्लीयरेंस पाना था।

ममता ने यह बात बंगाल बिजनेस कॉन्क्लेव के आखिरी सत्र में कही। उन्होंने उद्योगपतियों से अपील की कि राज्य में निवेश करें। यहां आपको किसी तरह का कोई मानसिक दबाव नहीं झेलना पड़ेगा। 

टैक्स के कारण हर व्यापारी डरा हुआ है: ममता

  • ''उद्योग जगत के मेरे दोस्तों ने मुझे बताया कि हमें बिजनेस के दौरान कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। कई तरह के टैक्स चुकाने पड़ते हैं। इनकम टैक्स, कस्टम, सीबीआई टैक्स। ऐसे में हर कोई बिजनेस करने से डरा हुआ है। कई मानसिक परेशानियां हैं। यदि सब यूं ही चलता रहेगा तो फिर वे बिजनेस कैसे करेंगे।'' 
  • ''आप बंगाल में बिना किसी चिंता के आराम से बिजनेस कर सकते हैं। राज्य में किसी भी बात को लेकर डरने की जरूरत नहीं है। राज्य सरकार पूरी तरह से कारोबारियों को सहयोग करेगी। बंगाल में हम आपको सुनिश्चित कर सकते हैं कि हमारी सुविधाएं, हमारा व्यवहार और मानवता आपको हर कदम पर सहयोग करेगी।'' 
  • ''यदि हर कोई आपके दरवाजे पर दस्तक देकर कहेगा कि अपना बिजनेस बंद कीजिए तो फिर कोई कैसे बिजनेस कर पाएगा? बंगाल में ऐसा बिल्कुल नहीं होगा। मैं चाहती हूं कि किसान, उद्योगपति और स्थानीय लोग शांतिपूर्ण ढंग से रहें।'' 

20 देशों के प्रतिनिधियों ने शिरकत की

बंगाल बिजनेस कॉन्क्लेव में 20 देशों के प्रतिनिधियों ने शिरकत की थी। हालांकि, राज्य सरकार ने यह नहीं बताया है कि कंपनियों ने कितने निवेश की घोषणा की है। समिट में शामिल होने वाले देशों में इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, रूस, जर्मनी, जापान, एस्टोनिया, चीन, अर्जेंटीना, अमेरिका और पौलेंड के प्रतिनिधि शामिल थे।