ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
अचानक बिजनौर पहुंची प्रियंका गांधी, हिंसा में मारे गये लोगों के परिजन से की मुलाकात
December 22, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश


बिजनौर। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा रविवार अचानक बिजनौर पहुंची और संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ हाल में हुई हिंसा में मारे गये दो लोगों के परिजन से मुलाकात की। उनके अचानक और बिना किसी पूर्व सूचना के जिले में पहुंचने पर जिला  प्रशासन में हड़कंप मच गया। अपने संक्षिप्त दौरे के दौरान प्रियंका गांधी ने बीते शुक्रवार को बिजनौर में नये नागरिकता कानून के खिलाफ नहटौर इलाके में हुए हिंसक प्रदर्शन में मारे गये अनस और सुलेमान नामक व्यक्तियों के घर गयीं। वहां उन्होंने मृतकों के परिजन से मुलाकात की और उनके प्रति संवेदना व्यक्त की। इसके अलावा कांग्रेस नेत्री प्रियंका हिंसा के दौरान पथराव में घायल हुए एक युवक के घर भी गयीं।
इस दौरान कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने संवाददाताओं से बातचीत में दावा किया कि पहले पुलिस ने गोली चलायी, उसके बाद पथराव हुआ है। यह सीधे तौर पर हत्या का मामला है। उन्होंने कहा कि अपने अधिकारों के लिये आवाज उठाना संवैधानिक अधिकार है। कांग्रेस इस मामले को संसद में उठायेगी और पीड़ित परिवारों को न्याय दिलाएंगे। कांग्रेस नेत्री प्रियंका ने कहा कि इस हिंसा की न्यायिक जांच होनी चाहिये। विदित हो कि बिजनौर में गत शुक्रवार को नये नागरिकता कानून के खिलाफ हुए हिंसक प्रदर्शन हुआ था। इसमें दो लोग मारे गये थे तथा अनेक अन्य घायल हो गये थे।