ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
आवास न मिलने पर लाभार्थियों ने काटा कलैक्ट्रेट पर हंगामा  
November 30, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश

 



अलीगढ़। आधी अधूरी तैयारियों के साथ  ऐलमपुर में बने कांशीराम आवासों की आवंटन प्रक्रिया पर डीएम ने रोक लगा दी। डीएम के आदेशों के बावजूद विकास प्राधिकरण द्वारा मकानों की क्रमवार नंबरिंग न कर पाने के कारण उत्पन्न हुई अप्रिय स्थिति को देखकर यह कार्रवाई हुई। इससे गुस्साए लाभार्थियों ने जमकर हंगामा काटा। उनका कहना था कि जब आवासों आवंटन की व्यवस्था ही पूर्ण नहीं थी तो उन्हें बुलाया ही क्यों गया। 
हर शुक्रवार को कांशीराम आवासों के आवंटन की प्रक्रिया होती है। बुधवार को कलक्ट्रेट सभाकक्ष में कांशीराम आवास के 367 लाभार्थियों को आवंटन पत्र बांटे गए थे। शुक्रवार को इन्हें आवास आवंटित होने थे। इसके लिए बड़ी संख्या में लाभार्थी ऐलमपुर स्थित कांशीराम आवासीय परियोजना पहुंच गए। विकास प्राधिकरण के जेई के नेतृत्व में आवंटन प्रक्रिया शुरू भी कर दी गई। करीब 20 लोगों के नाम आवास आवंटित भी कर दिये गए। लेकिन इसके बाद पता चला कि आवासों की क्रमवार नंबरिंग ही नहीं हुई है। 
इसकी जानकारी उच्चाधिकारियों को दी गई तो उनके भी हाथ पांव फूल गए। जानकारी मिलने पर डीएम ने प्राधिकरण अफसरों को कड़ी फटकार लगाते हुए क्रमवार खाली आवासों की नंबरिंग करने के आदेश जारी करते हुए तब तक आवंटन प्रक्रिया पर रोक लगा दी। इसकी सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में आवास पाने के लिए लाइनों में लगे लाभार्थियों में आक्रोश की लहर दौड़ गई। उन्होंने हंगामा मचाना शुरू कर दिया। आरोप प्रत्यारोपों की बौछार एवं लाभार्थियों के आक्रोश को देखते हुए वहां मौजूद प्राधिकरण अफसर खिसक लिये। हंगामा देर सायं तक चलता रहा। बाद में मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने किसी तरह समझा-बुझाकर लोगों को वापस भेजा। डीएम चंद्रभूषण सिंह ने बताया कि प्राधिकरण द्वारा क्रम वार खाली आवासों की नंबरिंग न करने के कारण आवंटन प्रक्रिया पर रोक लगा दी गई है।