ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
705 प्रदर्शनकारी गिरफ्तार, 4500 पाबंद, 405 खोखे बरामद, आईजी बोले- हिंसा में अवैध असलहों का उपयोग हुआ
December 21, 2019 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में बीते 10 दिसंबर से नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन हो रहे हैं। लेकिन, बीते तीन दिनों से आधे प्रदेश में हिंसक प्रदर्शनों की तस्वीर सामने आई है। इस दौरान 15 लोगों की मौत हो गई। करोड़ों रुपए के राजस्व को नुकसान पहुंचा है। प्रदेश में सुरक्षा बल अलर्ट हैं। 31 जनवरी 2020 तक धारा 144 प्रभावी कर दी गई है। वहीं, इंटरनेट सेवाएं भी 27 शहरों में ठप है। आईजी कानून व्यवस्था प्रवीण कुमार ने कहा कि, अब तक 705 लोग गिरफ्तार किए गए हैं।

हिंसा में हो रहा अवैध असलहों का प्रयोग
आईजी कानून व्यवस्था प्रवीण कुमार ने बताया कि, उत्तर प्रदेश में दस दिसंबर से नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में प्रदर्शनों में 705 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 4500 लोगों को शांति भंग की आशंका में पाबंद किया गया है। अब तक हिंसा के दौरान 15 लोगों की मौत हुई है। आईजी ने कहा- हिंसा में 263 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। इनमें 57 गोली लगने से घायल हुए हैं। हिंसा में भारी पैमाने पर प्रदर्शनकारियों ने अवैध असलहों का उपयोग किया है। पुलिस ने 405 खोखे बरामद किए हैं।

सोशल मीडिया पर भी पुलिस की नजर
सोशल मीडिया पर 13,101 पोस्ट के खिलाफ कार्रवाई हुई है। इस मामले में 63 एफआईआर लिखी गई है। 102 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। 442 लोगों को शांतिभंग की आशंका में हिरासत में लेने के बाद रिहा कर दिया। उन्हें पाबंद किया गया है।