ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
15 साल की उम्र में आदेश ने लिखी साइंस और टेक्नोलॉजी पर इनसुइंग मेकेनाइजेशन पुस्तक
January 12, 2020 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • उर्जाधानी


वैढ़न,सिंगरौली। कहते हैं कि अगर आपके मन में कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो उसे फलीभूत होने में देर नहीं लगती, हां इसके लिए आपको एकाग्र होकर मेहनत जरूर करना पड़ता है। क्राइस्ट ज्योति स्कूल सिंगरौली में नौवीं के छात्र आदेश सिंह ने महज 15 साल की उम्र में विज्ञान एवं तकनीक पर किताब लिख डाली। इस किताब को बीते दिन दिल्ली के मशहूर ब्लू रोज पब्लिशर ने पब्लिक भी कर दिया है। आदेश की इस सफलता से उनके माता-पिता एवं स्कूल के शिक्षक भी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। श्वठ्ठह्यह्वद्बठ्ठद्द रूद्गष्द्धड्डठ्ठद्ब5ड्डह्लद्बशठ्ठ  नामक इस किताब में बड़ी बारीकी से साइंस औए टेक्नोलॉजी के बारे में बताया है। इस किताब में भविष्य में टेक्नोलॉजी उसके प्रकार, आने वाले समय में स्मार्टफोन और कंप्यूटर के विषय एवं उससे पड़ने प्रभावों को दर्शाया गया है। इस पुस्तक के जरिए बताया गया है भविष्य में टेक्नोलॉजी का शिक्षा के साथ समाज पर क्या असर होगा। यह पुस्तक पब्लिशर्स के अलावा ऑनलाइन शॉपिंग एप अमेजॉन, फ्लिपकार्ट, शॉपक्लू पर भी उपलब्ध है। आदेश के पिता नागेंद्र प्रताप सिंह बतौर निरीक्षक मोरवा थाने की प्रभार संभाले हुए हैं। उन्होंने बताया कि 2005 में जन्मे आदेश कि  रुचि बचपन से ही विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में थी। महज 13 साल की उम्र में उसने अपना एक ऐप भी लांच किया था एवं यू ट्यूब पर चैनल बनाकर नई नई तकनिकों पर जानकारी प्रदान कर रहा है।  अभी वह अपनी पढ़ाई के साथ साथ अंतरिक्ष एवं ब्रह्मांड के विषय में भी रुचि दिखा रहा है। फिलहाल लेखनी में उसका यह पहला कदम है और उसकी रुचि को देखते हुए वह उसे इन चीजों में प्रोत्साहित करते रहते हैं।