ALL उर्जाधानी देश विदेश राजनीति मध्य प्रदेश/उत्तर प्रदेश मनोरंजन साहित्य लेख
१३ वर्षीय नाबालिक ने बंधक बनाकर १४ वर्षीया नाबालिका से किया दुष्कर्म, मोरवा पुलिस ने किया गिरफ्तार
January 6, 2020 • R. K. SRIVASTAVA / NIRAJ PANDEY • उर्जाधानी


मोरवा, सिंगरौली। जिले में महिलाओं और बच्चियों से दुराचार की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। ग्रामीण अंचल में शिक्षा की कमी एवं जागरूकता के अभाव में आए दिन बालिकाओं से शोषण का मामला सामने आते जा रहा है। ताजा मामला मोरवा थाना का है जहां एक 14 वर्षीय नाबालिग ने 13 वर्षीय नाबालिगका को बंधक बनाकर उसके साथ लगातार दुष्कर्म किया। आरोपी युवक अब पुलिस की गिरफ्त में है।
जानकारी अनुसार वार्ड क्रमांक 10 निवासी प्रीति कुमारी (परिवर्तित नाम) ने परिजनों के साथ मोरवा थाने में तहरीर दी थी कि जगमोरवा निवासी एक युवक से उसकी दोस्ती हुई थी और उसने धोके से अपने घर बुलाकर उस बंधक बना लिया और 24 घंटे में कई बार उससे दुष्कर्म किया। इस दौरान उसके परिजन अपनी बच्ची की खोज में थाने जा पहुँचे। किसी तरह आरोपी के चुंगल से छुटी किशोरी ने अपने परिजनों को आप बीती बताई और मामला थाने जा पहुँचा। पीड़िता की तहरीर पर पुलिस अधीक्षक अजीत रंजन के निर्देशानुसार मोरवा निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह के मार्गदर्शन में उपनिरीक्षक शीतला यादव द्वारा अपराध क्रमांक 8/20 के तहत मारपीट, धमकाने एवं  बलात्कार आदि विभिन्न धाराओं के तहत पंजीबद्ध कर आरोपी युवक की तलाश शुरू कर दी गई।  मामले का पता चलते ही भागने की फिराक में लगे युवक को पुलिस ने मोरवा रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी युवक को धारा 342, 363, 366, 376, 376 (2) (आई), 376 (2) (एन) आईपीसी एवं 3/4 पोस्को एक्ट के तहत हिरासत में लिया है। जिसस आज पुलिस अभिरक्षा में न्यायालय में पेश किया गया जाएगा। इस कार्रवाई में प्रमुख रूप से मोरवा निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह के साथ उपनिरीक्षक शीतला यादव, प्रधान आरक्षक अजय पांडे, राजेश दिवेदी, आरक्षक विक्रम सिंह, सुनील मिश्रा, सुबोध सिंह तोमर एवं महिला आरक्षक पूजा त्रिपाठी की अहम भूमिका रही।